UPI यूजर्स के लिए खुशखबरी, अब 1 लाख नहीं 5 लाख तक कर सकेंगे पेमेंट

भारत की केंद्र सरकार ने डिजिटल इंडिया मिशन को साकार करने के लिए कई ऐसी योजनाएं और  सुविधाएँ लॉन्च की है जिससे देश के नागरिक अपने कार्य को डिजिटल तरीके से कर सके भारत में बहुत से कार्य अब ऑनलाइन किये जा रहे हैं जिससे डिजिटल क्रांति आ रही है ऑनलाइन पेमेंट करने में भारतअन्य देशों के मुकाबले आगे है 2022 में भारत के यूपीआई पेमेंट का आंकड़ा 100 बिलियन से ज्यादा था और इस आंकड़े को पार करते हुए 2023 मेंयह आंकड़ा 118 बिलियन के पार पहुँच गया.

महात्मा गाँधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना के तहत राज्य में बनेंगे रूरल इंडस्ट्रियल पार्क

कई सारे ऐसे कार्य हैं जिनके लिए धनराशि का भुगतान करना पड़ता है पैसे के ऑनलाइन भुगतान के लिए लोग यूपीआई पेमेंट करते है अभी तक ऑनलाइन यूपीआई पेमेंट की लिमिट 1 लाख रुपये प्रतिदिन थी जिससे लोगों को ज़्यादा बड़ी धनराशि का भुगतान करने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ता था बड़े व्यापारियों और कार्यकर्ताओं के लिए समस्याएँ उत्पन्न हो रही थी ऑनलाइन कैशलेस पेमेंट को सरल बनाने के लिए दिसंबर में हुई मॉनेटरी पॉलिसी की बैठक में नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया के साथ मिलकर केंद्र सरकार द्वारा निर्धारित की गई 1लाख रुपये तक की ऑनलाइन पेमेंट लिमिट को हटा कर 5लाखरुपये कर दिया गया है.

Good news for UPI users, now they can make payment up to Rs 5 lakh instead of Rs 1 lakh.
Good news for UPI users, now they can make payment up to Rs 5 lakh instead of Rs 1 lakh.

वर्तमान में लोग डिजिटल इंडिया मिशन की ओर बढ़ते हुए ऑनलाइन कैशलेस पेमेंट को अपना रहे हैं जिससे कैश पेमेंट में कमी आ रही है किंतु अक्सर लोगों को  ज़्यादा बड़ी धनराशि का ऑनलाइन पेमेंटकरने में समस्या होती है क्योंकि सरकार द्वारा ऑनलाइन पेमेंट की लिमिट 1 दिन में 1 लाखरु पये ही है लेकिन उपभोक्ताओं की समस्या को देखते हुए इस पर दिसंबर में मॉनेटरी पॉलिसी की बैठक हुई थी जिसके बाद यूपीआई पेमेंट की लिमिट बढ़ाने का निर्णय लिया गया जिसमें अब यूपीआई यूजर्स बिना किसी कठिनाई के 1 दिन में 5 लाख रूपये तक का ऑनलाइन कैशलेस पेमेंट कर सकेंगेसरकार के इस फैसले से यूपीआई यूजर्स को बहुत ही राहत मिलेगी.

किन्हें मिलेगा 5 लाख रुपये तक यूपीआई पेमेंट का लाभ

यूपीआई उपभोक्ताओं की समस्या को देखते हुए मॉनेटरी पॉलिसी की बैठक मेंनेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया के साथ मिलकर यूपीआई ऑनलाइन कैशलेस पेमेंट लिमिट को 1लाख रुपये प्रतिदिन से बढ़ाकर 5 लाख रुपये प्रतिदिन कर दिया  है.

Skill India Mission 2024 के अंतर्गत बेरोजगार युवाओं के लिए सुनहरा मौका यहाँ से करें आवेदन

इस सुविधा का लाभ उन संस्थाओं के लिए किया गया है जिनके पेमेंट की धनराशि 1 लाख रुपये से ज्यादा होती है और उन्हें ऑनलाइन कैशलेस पेमेंट करने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है यह समस्या ज्यादातर शैक्षणिक संस्थाओं की फीस और अस्पतालों के बिलों का भुगतान करने में उत्पन्न होती है इसलिए इस सुविधा का लाभ शैक्षणिक संस्थानों और अस्पतालों को प्रदान किया जाएगा.

कब से कर सकेंगे 5 लाख रुपये तक का यूपीआई पेमेंट

यूपीआई यूजर्स के लिए आरबीआई की ओर से बड़ा अपडेट जारी किया गया है जिसके अनुसार अब यूपीआई पेमेंट लिमिट को 1 लाख रुपये से बढ़ाकर 5 लाख रुपये कर दिया गया है जिसे 10 जनवरी 2024 से लागू कर दिया जाएगा जिसके बाद सभी यूजर्स अब 5 लाख रुपये तक का यूपीआई पेमेंट कर सकेंगे.

Leave a Comment