महात्मा गाँधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना के तहत राज्य में बनेंगे रूरल इंडस्ट्रियल पार्क | Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Yojana

Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Yojana: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी द्वारा महात्मा गाँधी रूलर इंडस्ट्रियल पार्क योजना का आरंभ किया गया है इस योजना के तहत ग्रामीण इलाकों में आजीविका केंद्र बनाए जाएंगे जिसमे आजीविका मूलक गतिविधियों को संचालित किया जाएगा ग्रामीण युवाओं, महिलाओं, पुरुषों को रोजगार देने के लिए इस योजना को शुरू किया गया है रूलर इंडस्ट्रियल पार्क के निर्माण से सभी बेरोज़गारों को रोजगार प्रदान किया जाएगा.

Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Yojana
Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Yojana

महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना: डिटेल्स

योजना का नाम Mahatma Gandhi Rural Industrial Park Yojana
शुरू की गई मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी द्वारा
आरंभ तिथि 2 अक्टूबर 2022
लाभार्थी प्रदेश के ग्रामीण इलाकों की महिलाएं एवं युवा
उद्देश्य रूलर इंडस्ट्रियल पार्क स्थापित करके रोजगार के अवसर बढ़ाना
साल 2023
नोडल विभाग पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग
आवेदन प्रक्रिया अभी पता नहीं
अधिकारिक वेबसाइट जल्दी लॉन्च होगी

 

यह भी पढ़े: ग्राम पंचायत सचिव कैसे बने?

महात्मा गाँधी रूलर इंडस्ट्रियल पार्क योजना 2023

इस योजना के तहत ग्रामीण इलाकों के कुछ चयनित गौठानों को रूलर इंडस्ट्रियल पार्क के रूप में विकसित किया जाएगा शुरुआत में के प्रत्येक विकासखंड में दो रूरल इंडस्ट्रियल पार्क बनाए जाएंगे इस योजना का शुभारंभ 300 रूरल इंडस्ट्रियल पार्क के भूमिपूजन के साथ किया गया इस योजना के तहत युवाओं और महिलाओं को रोजगार प्रदान किया जाएगा जिससे उनकी आर्थिक स्थिति सुधरेगी इस योजना का नोडल विभाग, पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग को बनाया गया है छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के द्वारा इस योजना का शुभारंभ 2 अक्टूबर 2022 को किया गया इस योजना के तहत 600 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित  किया गया है.

महात्मा गाँधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना का उद्देश्य

महात्मा गाँधी रूरल इंडस्ट्रियल योजना के तहत महिलाओं और युवाओं को रोजगार प्रदान करने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों के गोठानों को आजीविका के केंद्रों के रूप में विकसित किया जाएगा इसमें कई प्रकार के आजीविका मूलक गतिविधियों को संचालित किया जाएगा जिसका मुख्य उद्देश्य ग्रामीण इलाकों और ग्रामीणों का विकास करना है तथा उन्हें आत्मनिर्भर और सशक्त बनाना है इस योजना का शुभारंभ करते हुए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने कहा “इस योजना से आत्मनिर्भर गांव का महात्मा गाँधी का सपना पूरा होगा गाँधी जी ने जिस ग्राम स्वरूप की कल्पना की उसे साकार करने के लिए हमारी सरकार काम कर रही है”इस योजना के तहत कृषि, उद्यानिकी, मुर्गीपालन, बकरी पालन,दाल मिल, तेल मिल,चक्कियाँ आदि जैसे कई इकाइयों को शुरू किए जाएंगे और ग्रामीणों को रोजगार प्रदान किया जाएगा इससे ग्रामीणों की आर्थिक स्थिति सुधरेगी और उनकी आय में वृद्धि होगी.

रूलर इंडस्ट्रियल पार्क की योजना के लाभ तथा विशेषताएं

  • रूलर इंडस्ट्रियल पार्क योजना की शुरुआत 2 अक्टूबर 2022 को छत्तीसगढ़ के प्रधानमंत्री भूपेश बघेल जी के द्वारा की गई.
  • इस योजना के तहत सभी ग्रामीणों को रोजगार के अवसर प्रदान किए जाएंगे.
  • इस योजना के तहत ग्रामीण इलाकों के चुनिंदा गोठानों को रूलर इंडस्ट्रियल पार्क में विकसित किया जाएगा.
  • इस योजना का शुभारंभ 300 इंडस्ट्रियल पार्क के भूमि पूजन के साथ किया गया
  • इस योजना के तहत प्रत्येक विकासखंड में दो इंडस्ट्रियल पार्क बनाए जाएंगे जिनमे ऐसी आजीविका मूलक गतिविधियों को शुरू किया जाएगा जिनसे लोगों को रोजगार प्रदान किया जा सके.
  • महात्मा गाँधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना का नोडल विभाग, पंचायत और ग्रामीण विभाग को बनाया गया है.
  • प्रत्येक इंडस्ट्रियल पार्क आजीविका मूल गतिविधियाँ शुरू कराने के लिए एक-एककरोड़रुपये की धनराशि प्रदान की जाएगी.
  • इसयोजना के तहत सभी गरीब महिलाओं, पुरुषों और युवाओं को रोजगार प्रदान किया जाएगा.
  • राज्य सरकार इस योजना के द्वारा महात्मा गाँधी का आत्मनिर्भर गांव का सपना पूरा कर रही है.
  • इस योजना से प्रदेश के गांव और गांववासियों का विकास होगा उनकी आय में वृद्धि होगी.

महात्मा गाँधी रूलर इंडस्ट्रियल पार्क योजना के तहत पात्रता

इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए आपको निम्नलिखित पात्रता मापदंडों को पूरा करना होगा

  • इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए आवेदक छत्तीसगढ़ राज्य का निवासी होना चाहिए.
  • इस योजना के तहत लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक की आयु 18 वर्ष या इससे अधिक होनी चाहिए.
  • इस योजना के तहत सिर्फ ग्रामीण इलाकों के गरीब बेरोजगार लोगों को ही रोजगार दिया जाएगा और सिर्फ वही इस योजना के तहत आवेदन करने का पात्र है.

महात्मा गाँधी रूलर इंडस्ट्रियल पार्क योजना के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट्स

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपके पास निम्नलिखित आवश्यक दस्तावेज होने चाहिए इनके अभाव में आप इस योजना का लाभ प्राप्त नहीं कर सकते है.

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • आय प्रमाणपत्र
  • आयु प्रमाणपत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • राशनकार्ड
  • चालू मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

यह भी पढ़े: रेलवे स्टेशन मास्टर कैसे बनें?

महात्मा गाँधी रूलर इंडस्ट्रियल पार्क योजना के तहत आवेदन कैसे करें?

इस योजना की शुरुआत छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी द्वारा 2 अक्टूबर 2022 को की गई है जिसके तहत छत्तीसगढ़ के ग्रामीण लोगों को रोजगार प्रदान किया जाएगा यदि आप भी छत्तीसगढ़ के मूल निवासी हैं और इस योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अभी थोड़ा इंतजार करना होगा क्योंकि अभी तक सरकार की ओर से योजना के तहत आवेदन प्रक्रिया शुरू नहीं  की गई है सिर्फ योजना का उद्घाटन किया गया है जैसे ही योजना के लिये आवेदन प्रक्रिया शुरू हो आप सभी आवेदन कर सकेंगे किंतु अभी थोड़ा इंतजार करना होगा इस योजना से संबंधित कोई भी अपडेट मिलते ही हम आपको अवश्य सूचित करेंगे.

Leave a Comment