BSC MLT कोर्स के बारे में पूरी जानकारी |  BSC MLT course details

BSC MLT course details: पैरामेडिकल कोर्स कई तरह के होते हैं उन्हीं में से एक होता है बीएससी एमएलटी जो कि एक मेडिकल लैबोरेट्री से संबंधित कोर्स होता है जिसे करके आप आसानी से ही 25,000 से 30,000 रूपये तक की नौकरी पा सकते हैं यहाँ तक की आप अपनी लैब भी खोल सकते हैं तो आइये जानते हैं आप कैसे इस कोर्स को कर सकते हैं इसमें क्या पढ़ाया जाएगा कितना खर्च आएगा कैसी नौकरी मिलेगी और आप कितना वेतन कमा सकते हैं.

BSC MLT course details
BSC MLT course details

Table of Contents

बीएससी एमएलटी कोर्स क्या होता है?

बीएससी एमएलटी एक लैब से संबंधित कोर्स होता है जिसमें लैब के अंदर होने वाले अलग अलग तरह के टैक्स होगा जैसे खून टेस्ट, पेशाब टेस्ट इस तरह के टेस्टों के बारे में सिखाया जाता है इसके साथ ही शरीर के अंदरूनी हिस्सों के बारे में साथ ही बैक्टीरिया, वाइरस, ब्लड सेल्स, प्लेटलेट्स, प्लाज़्मा इन सभी के बारे में सैंपल लेना उसकी प्रोसेसिंग करना, लैब में इस्तेमाल होने वाले अलग अलग तरह के उपकरणों के बारे में विस्तार से सीखने को इस कोर्स में मिलता है.

होम्योपैथिक डॉक्टर कैसे बने

बीएससी एमएलटी कोर्स करने के लिए योग्यता क्या रखी गयी हैं?

यह 3 साल का कोर्स होता है जिसमें छे सेमेस्टर होते हैं और इस कोर्स में ऐडमिशन के लिए आपको 12th फिजिक्स केमिस्ट्री और बायोलोजी विषय से पास करनी होती है अब इस कोर्स में ऐडमिशन के लिए कुछ जगहों पर एंट्रेंस एक्जाम लिए जाते हैं जिनमें NPAT, CUET, CUCET, SET इस तरह के एंट्रेंस एक्जाम लिए जाते हैं लेकिन यहाँ पर मैं आपको बता दूँ कि ज्यादातर जगहों पर इसके लिए 12th के नंबरों के आधार पर ही मेरी एक लिस्ट तैयार की जाती है और फिर उसी के हिसाब से कॉलेजों में ऐडमिशन मिलता है इसलिए आपके 12 में नंबर अच्छे आने चाहिए तभी आपको सरकारी कॉलेज मिल पाएगा वरना प्राइवेट कॉलेज में तो आप डाइरेक्ट भी ऐडमिशन ले सकते हैं.

बीएससी एमएलटी कोर्स करने के लिए फीस कितनी लगती है?

सरकारी कॉलेज और प्राइवेट कॉलेज की फीस में काफी ज्यादा अंतर होता है सरकारी कॉलेज की फीस है मात्र 60,000 से 80,000 रूपये तक पड़ती है वहीं प्राइवेट कॉलेज की फीस 2,00,000 रूपये तक भी हो सकती है.

NEET में कितने मार्क्स चाहिए गवर्नमेंट कॉलेज के लिए?

बीएससी एमएलटी कोर्स का सिलेबस क्या होता हैं?

बीएससी एमएलटी कोर्स में एनाटॉमी, बायो केमिस्ट्री, माइक्रोबायोलॉजी, क्लिनिकल पैथोलॉजी, ब्लड बैंकिंग, हिस्टोपैथोलॉजी, क्लीनिकल बायोकेमिस्ट्री, लैबोरेट्री मैनेजमेंट, रिसर्च मैथोडोलॉजी इस तरह के अलग अलग विषय आपको इन्हें 6 सेमेस्टर में आपको पढ़ने होते हैं इस कोर्स को करने के बाद आप या तो नौकरी कर सकते हैं या आगे बढ़ना चाहते हैं तो पढ़ भी सकते हैं.

बीएससी एमएलटी कोर्स करने के बाद आप कौन कौन से कोर्स कर सकते हैं?

इसमें अलग अलग तरह के कई कोर्स होते हैं जिन्हें आप बीएससी एमएलटी के बाद कर सकते हैं तो आइये पहले उन कोर्स के बारे में ही जान लेते हैं जिन्हें यहाँ पे बीएससी की बात कर सकते हैं इनमें आप एमएससी इन एमएलटी कर सकते हैं एमएससी इन बायोटेक्नोलॉजी, एमएससी इन पब्लिक हेल्थ, एमबीए इन हॉस्पिटल मैनेजमेंट, पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन क्लीनिकल रिसर्च, पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन हॉस्पिटल मैनेजमेंट, पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन क्वालिटी मैनेजमेंट, पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन पब्लिक हेल्थ, पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन हेल्थ केयर मैनेजमेंट, पोस्ट ग्रैजुएट डिप्लोमा इन लैबोरेट्री टेक्नोलॉजी इस तरह के कई कोर्स हैं जिन्हें आप कर सकते हैं कि इसके अलावा कुछ सर्टिफिकेट कोर्स भी होते हैं जिन्हें आप बीएससी एमएलटी कोर्स के बाद कर सकते हैं अगर आपको जरूरत है.

लड़कियों के लिए 12वीं साइंस के बाद बेस्ट करियर ऑप्शन

बीएससी एमएलटी कोर्स करने के बाद आप कौन कौन सी नौकरियाँ कर सकते हैं?

बीएससी एमएलटी कोर्स करके आप अपनी खुद की लैब खोल सकते हैं अपनी लैब खोलकर अपना खुद का बिजनेस शुरू कर सकते हैं इसके अलावा आप हॉस्पिटल क्लिनिक्स में रिसर्च इंस्टीट्यूट में या जो पैरामेडिकल्स कम्पनीज़ हैं उनमें आप काम कर सकते हैं जैसे अपोलो हॉस्पिटल, थ्यरोकेयर टेक्नोलॉजीज़, लैब टेक,  आरजी टेक्नो सॉल्यूशन, डॉक्टर लाल पैथलैब्स इस तरह की कुछ फार्मास्यूटिकल्स कम्पनीज़ है आप इन में नौकरी कर सकते हैं.

जहाँ पर मेडिकल लैबोरेट्री टेक्निशियन, लैब सुपरवाइजर, पब्लिक हेल्थ ऑफिसर, मेडिकल सेल्स रिप्रेजेंटेटिव इस तरह की नौकरियां कर सकते हैं या किसी कॉलेज में आप टीचर भी बन सकते हैं और इन नौकरियों में आप 25,000 से 30,000 रूपये तक का वेतन कमा सकते हैं.

इसके बाद बीएससी से संबंधित कुछ और सवालों के जवाब जान लेते हैं

बीएससी एमएलटी कोर्स मुश्किल होता है या आसान?

बीएससी एमएलटी कोर्स थोड़ा मुश्किल कोर्स जरूर होता है क्योंकि यह 3 साल का लम्बा कोर्स होता है जिसमें सभी कुछ आपको विस्तार से पढ़ाया जाता है और साथ ही इसमें प्रैक्टिकल्स भी आपको करने होते हैं इसलिए ये कोर्स थोड़ा मुश्किल जरूर होता है.

बीएससी एग्रीकल्चर क्या है

क्या आप बीएससी एमएलटी के बाद डॉक्टर बन सकते हैं?

जी हाँ आप डॉक्टर बन सकते हैं लेकिन उसके लिए आपको डॉक्टरी से संबंधित कोर्स करने पड़ेंगे जिसमें एमबीबीएस, बीडीएस, बीएएमएस, बीयूएमएस इस तरह के कोर्स आप कर सकते हैं जिनके बाद आप डॉक्टर बन सकते हैं लेकिन वहाँ पर बीएससी एमएलटी में जो आपको पढ़ाया जाएगा वो उन डॉक्टरी कोर्स में आपके काम नहीं आएगा.

क्या बीएससी एमएलटी के लिए नीट एग्जाम जरूरी होता है?

ऐसा नहीं है बीएससी एमएलटी के लिए ज़रूरी नहीं होता बीएससी एमएलटी कोर्स के लिए तो ज्यादातर 12 के नंबरों के आधार पर ऐडमिशन मिल जाता है.

क्या बीएससी एमएलटी एक पैरामेडिकल कोर्स है?

जी हाँ बीएससी एमएलटी एक पैरामेडिकल कोर्स है इसके अलावा जीएनएम एएनएम बीएससी नर्सिंग डीएमएलटी इस तरह के कोर्स भी पैरामेडिकल कोर्स ही होते हैं.

बीएससी एमएलटी में अदर कोर्स कौन सा है?

लैबोरेट्री में बीएससी एमएलटी सबसे बेहतर कोर्स है इसमें आगे अब एमएससी एमएलटी या एमबीए इन हॉस्पिटल मैनेजमेंट जैसे कोर्स भी कर सकते हैं और बेहतर नौकरी आप इसमें पा सकते हैं.

बीएससी एमएलटी के बाद विदेश में कैरिअर के क्या विकल्प हैं?

बीएससी एमएलटी के बाद आप विदेश में जाकर डॉलरों में कमा सकते हैं कोविड के बाद से तो सभी देशों में इसकी डिमांड बढ़ चुकी है लेकिन हाँ इसके लिए आपको इंग्लिश भाषा अच्छी आनी चाहिए तभी आप वहाँ पर इंटरव्यू क्रैक करके अच्छी नौकरी ले पाएंगे.

बीएससी एमएलटी और डीएमएलटी में क्या अंतर होता है?

इन दोनों में काफी ज्यादा अंतर होता है बीएससी एमएलटी जहाँ एक डिग्री प्रोग्राम है जो कि 3 साल का होता है वहीं पर डीएमएलटी एक डिप्लोमा प्रोग्राम होता है जो कि मात्र 2 साल का होता है लेकिन हाँ बीएससी एमएलटी और डीएमएलटी ये दोनों लैबोरेट्री से संबंधित कोर्स होते हैं.

आज आपने क्या सीखा?

आशा करते हैं कि ये जानकारियां आपके लिए काफी हेल्पफुल होगी इसके अलावा अगर आप किसी अन्य टॉपिक के बारे में कोई और जानकारी चाहते हैं तो आप हमें कमेंट में पूछ सकते हैं.

Leave a Comment